श्रीराम जय राम जय जय राम, শ্ৰীৰাংজয়ৰাংজয়জয়ৰাং, শ্রীরাম জয় রাম জয় জয় রাম , શ્રીરામ જય રામ જયજય રામ, ಶ್ರೀರಾಮಜಯರಾಮಜಯಜಯರಾಮ, ശ്രിറാം ജയ് റാം ജയ്‌ ജയ് റാം, శ్రీరాంజయరాంజయజయరాం

Press Release

Press Statement – Dr Surendra Jain

Demographic Imbalance Dangerous for National Existence and Identity: Dr Surendra Jain New Delhi, 27 Aug, 2015. Census Report is not merely a data but is the identity of the community. The demographic imbalance of Bharat has not only challenged its identity but also posed threat to its existence. Addressing a press conference in New Delhi, […]

पूर्व राष्ट्रपति एवं भारत रत्न डॉ. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम को विनम्र श्रद्धांजलि!

भारत माता के सपूत, राष्ट्रपति पद भी जिनसे विभूषित हुआ, ‘मिसाइल मैन’ के नाम से जिन्होंने संसार में प्रसिद्धि प्राप्त की, 1998 में बड़ी कुशलता से परमाणु विस्फोट सम्पन्न हो गया और दुनिया जान न सकी, अन्त तक जो स्वयं को अध्यापक कहलाने में गौरव अनुभव करते थे, जिन्होंने जीवन में कभी किसी को कष्ट […]

विश्व हिन्दू परिषद केन्द्रीय मार्गदर्शक मण्डल उपवेशन, हरिव्दार.

विश्व हिन्दू परिषद केन्द्रीय मार्गदर्शक मण्डल उपवेशन, हरिव्दार.

विश्व हिन्दू परिषद केन्द्रीय मार्गदर्शक मण्डल उपवेशन प्राचीन श्रीराम मंदिर, ऋषिकेश रोड, भूपतवाला, हरिद्वार ज्येष्ठ शुक्ल सप्तमी-अष्टमी, संवत् 2072 विक्रमी, 25-26 मई, 2015 प्रेसनोट 25 मई, 2015 । हरिद्वार, प्राचीन श्रीराम मन्दिर, भोपतवाला में विश्व हिन्दू परिषद की केन्द्रीय मार्गदर्शक मण्डल की बैठक के प्रथम सत्र में दो प्रस्ताव ‘‘गंगा की अविरलता ही गंगा की […]

APPEAL FOR HELP IN RELIEF AND REHABILITATION EFFORTS FOR OUR QUAKE-HIT BRETHREN IN NEPAL

Sadar Jai Sri Ram! Pray you are doing well! You are aware of the severe 7.9 earthquake that devastated Nepal on April 25, 2015! The Governments have been doing their work to help the victims of the tragedy. The entire world is admiring the quick response and initiatives of the Government of Bharat in rescue […]

An APPEAL TO HELP NEPAL and BHARAT EARTHQUAKE INJURED and AFFECTED

An  Appeal by Dr Pravin Togadia to Support India Health Line & Hindu Help Line To HELP NEPAL & BHARAT EARTHQUAKE INJURED & AFFECTED Prayag (Allahabad) / Lucknow / Delhi / Patna / Gorakhpur / Karnavati (Ahmedabad), April 26, 2015 On April 25, 2015, there was a severe Earthquake measuring 7.9 on the Richter scale, […]

हिन्दू नववर्ष एवं भगवान श्रीराम के जन्मदिन (श्रीरामनवमी) की हार्दिक शुभकामनाएँ

जय श्रीराम।  चैत्र शुक्ल प्रतिपदा विक्रमी संवत 2072 शके 1937 युगाब्द 5117 नववर्ष भगवान श्रीराम के जन्मदिन श्रीरामनवमी की हार्दिक शुभकामनाएं। नववर्ष प्रतिपदा के दिन महत्व क्यो? हवाओं में परिवर्तन होता है। पृथ्वी देवी के जीवन दाता सूर्य भगवान् अपने पूर्ण शक्ति से संचरण करते हैं। चैत्र नवरात्रि के निमित्त माँ भगवती दुर्गा भी पृथ्वी […]

प्रैस विज्ञप्ति

प्रैस विज्ञप्ति

प्रैस विज्ञप्ति ईसाई मिशनरी भारत सरकार , हिन्दू समाज और भारत देश को सम्पूर्ण विश्व में बदनाम करने के लिये हमेशा झूठा और दुर्भावनापूर्ण प्रचार करते हैं । भाजपानीत सरकार आने पर इनका यह दुष्प्रचार अधिक आक्रामक हो जाता है । ईसाई मिशनरियों के इस मिथ्यापूर्ण दुष्प्रचार के संदर्भ में साक्ष्य देने के लिए डा […]

प्रेस वक्तव्य - प्रन्यासी मण्डल एवं प्रबंध समिति संयुक्त बैठक-हैदराबाद-28-29 दिसंबर 2014

प्रेस वक्तव्य – प्रन्यासी मण्डल एवं प्रबंध समिति संयुक्त बैठक-हैदराबाद-28-29 दिसंबर 2014

प्रन्यासी मण्डल एवं प्रबंध समिति संयुक्त बैठक-हैदराबाद-28-29 दिसंबर 2014 जी.नारायणम्मा इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एण्ड साइंस, शेखपेठ, गाचीबावली रोड, हैदराबाद (तेलंगाना) प्रेस वक्तव्य विश्व हिन्दू परिषद की प्रन्यासी मण्डल और प्रबंध समिति की दो दिवसीय बैठक 28 दिसम्बर, 2014 को भाग्यनगर (हैदराबाद) में प्रारम्भ हुई। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह श्री सुरेश जोशी (भैय्या जी), विश्व […]

विश्व हिन्दू परिषद के संरक्षक मा. अशोक सिंहल जी का प्रेस वक्तव्य

वाराणसी, 17 दिसम्बर, 2014 हिन्दू समाज धर्मान्तरण करने हेतु विश्व के किसी भी भाग में कभी नहीं गया जबकि इतिहास साक्षी है कि पिछले पाँच-छः सौ वर्षों से लाखों लोगों की हत्या करके प्रलोभन और धोखे से ईसाई मिशनरियों ने आधे से अधिक विश्व को ईसाई बनाया और इस्लाम ने मोरक्को से हिन्देशिया तक हिंसा […]

पूज्य महंत श्री अवेद्यनाथ जी के ब्रह्मलीन होने पर शोक संदेश

पूज्य महंत श्री अवेद्यनाथ जी के ब्रह्मलीन होने पर शोक संदेश

 13 सितम्बर, 2014 गोरक्षेपीठाधीश्वर पूज्य महंत अवेद्यनाथ जी महाराज श्रीराम जन्मभूमि आन्दोलन के प्राण थे। ई0 1984 में उन्होंने इस आन्दोलन का नेतृत्व संभाला था। सबको साथ लेकर चलने की उनमें विलक्षण प्रतिभा थी। उसी के परिणामस्वरूप श्रीराम जन्मभूमि मुक्ति आन्दोलन के साथ सभी सम्प्रदायों, दार्शनिक परम्पराओं के जगद्गुरु आचार्य, आचार्य, श्रीमहंत, महंत, महामण्डलेश्वर एवं […]