श्रीराम जय राम जय जय राम, শ্ৰীৰাংজয়ৰাংজয়জয়ৰাং, শ্রীরাম জয় রাম জয় জয় রাম , શ્રીરામ જય રામ જયજય રામ, ಶ್ರೀರಾಮಜಯರಾಮಜಯಜಯರಾಮ, ശ്രിറാം ജയ് റാം ജയ്‌ ജയ് റാം, శ్రీరాంజయరాంజయజయరాం

‘Hindu Ahead’ Movement Launched for Hindu Security & Prosperity

‘Hindu Ahead’ Movement Launched for Hindu Security & Prosperity

Inauguration at the Hands of Param Poojaneey RSS Sarsanghchalak Shri Mohan ji Bhagwat

Karnavati (Ahmedabad), March 31, 2013

In a Grand Hindu Confluence a unique movement ‘Hindu Ahead’ was launched. ‘Hindu Ahead’ stands for Hindu Safety & Prosperity. The movement aims at reaching out to Hindus from Cities to Towns & from remote villages to Tribal areas.

RSS Chief Ma. Sarsanghchalakji Shri Mohan ji Bhagwat unveiled a huge ‘Hindu Ahead’ logo & inaugurated ‘Hindu Ahead’ in a large gathering of Hindus in Karnavati’s (Ahmedabad) Kankaria Football Ground in Gujarat. While guiding the large gathering, Param Poojaneey Sarsanghchalak ji Ma. Shri Mohanji Bhagwat said, “We want to see ‘Hindu Ahead’ for Bharat. We want to build such a True, Strong & Good Hindu who is ‘Hindu’ in his behavior also. Hindu is Hindu in his thoughts but not so much in his behavior. Where there is Sattva, there is Strength & there only is Lakshmi! ‘Sattva’ means – Being Hindu in behavior. Your Adhikaaris will guide you in this Hindu Sangam; remember their guidance by heart. Do Ram Naam Jaap also.”

VHP Vishwa Hindu Parishad President Shri Raghav ji Reddy urged all Hindus to stand up for the Hindus all over Bharat. He said, “Bhagyanagar (Hyderabad, Assam, Kashmir, Kerala & almost in all states Hindus are facing attacks from the minority terrorists. Hindus from all walks of life now must stand up against this & Hindu Ahead movement will get all Hindus significant ways to do so. VHP is now surging ahead with a new vision with the traditional commitments like Bhagwan Shreeram Temple at Ayodhya. It now has a bigger role to play in Bharat. All VHPians should now gear up for Hindu Safety & Prosperity.”

Explaining the concept & aspects of ‘Hindu Ahead’, VHP International Working President Dr Pravin Togadia said, “In Bharat, that is Hindu Rashtra, Hindus are being attacked, persecuted & targeted by minorities, Govts & so called seculars. Hindus themselves now will stand up through 3 simple steps of ‘Hindu Ahead’. They are, be a Practicing Hindu, be an Aware Hindu & be an Active Hindu. Through this Hindus all over will be able to keep themselves aware of Hindu related issues, make others aware & be an Active Hindu by holding & participating in small group meetings, discussing the current happenings, sharing them with other Hindus through Face Book, Twitter, What’s App as well as by discussing personally with other Hindus & peacefully protesting in their own ways. Even a small drop makes the ocean. Being a Practicing Hindu is simple- Planting & watering Tulsi & other trees; respecting & helping elders daily, feeding cows daily, helping a needy Hindu student & youth etc. These simple steps will take ‘Hindu Ahead’. Hindu Safety & Security are must for achieving & maintaining Prosperity. If Hindus are not safe then any amount of income, property, education, job, business are not secured. Hindu Ahead will also aim at dimensions of Hindu Security such as Food Security, Education & Job Security, Business / Traditional Trades Security; Agricultural Land & Produce Security for farmers’ well-being; Hindu Health Security through Dhanvantari Health Line connecting over 10,000 expert Doctors with the needy Hindus all over Bharat for free. These are only a few glimpses of ‘Hindu Ahead.”

Dr Togadia also announced that by Janmashtami of 2015, every village (over 18,000) & every corner of a town / City of Gujarat will have Hindu Rashtra boards with VHP Hindu Ahead volunteers ensuring Safety, Security & Prosperity of Hindus. All over Bharat, Hindu Ahead aims at reaching out to 1,00,000 villages & small habitats. VHP has come a long way in serving Hindus. It is time for all Hindus to stand up for other Hindus hand in hand with Hindu Ahead.” The specially created Hindu Rashtra pledge was given to the large gathering.

VHP Joint General Secretary – All Bharat – Shri Vinayakrao Deshpande ji said, “VHP is a force to reckon with for Hindus & now VHP will reach the remotest villages all over Bharat with the help of millions of its volunteers. With this we will ensure that Hindus have a voice everywhere through VHP.”

Advocate Dileepbhai Trivedi, State President, Gujarat VHP gave a welcome speech.

VHP Gujarat Working President Shri Koushikbhai Mehta said, “VHP’s commitment to Bhagwan Shreeram Temple now has started showing positive results. Gujarat VHP volunteers will take Ram Naam 13 Maalaas Abhiyan to all over Gujarat from Chaitra Shuddha Pratipada to Akshay Trutiya.”

VHP Gujarat’s General Secretary Shri Ranchhodbhai Bharwad said, “Hindus should now give Samay Daan for well being of Hindu society. Me, mine, for me type of thinking will not help Hindu society now. Treating all Hindus as own larger family will take Hindu ahead”.

In the Hindu Sangam the noted Saints Poojaneey Shri Purushottam Charandas ji Shastri – Zundal; Poojaneey Shri Navottam Swamy ji – Vadtal & other saints were present & blessed Hindu Ahead.

To become a member of ‘Hindu Ahead’ there are booklets & forms to fill up. Any Hindu can become a part of the Hindu Ahead movement by becoming a Practicing Hindu, an Aware Hindu & an Active Hindu – all three or any of these 3 as a beginning. ‘Hindu Ahead’ information is available on the Face Book Page www.facebook.com/HinduAhead and also on www.facebook.com/HinduNewsNetwork . Those who wish to be members can send in their name, address, contact number, email details in an SMS to 98705 91237 (No calls). Email your information on hinduahead@gmail.com . For more info Hindu Help Line can be contacted on 020-66803300 / 075886 82181. Hindu Ahead T-Shirts, Caps, Headbands, Stickers, Tea-Coffee Mugs, Badges of Practicing Hindu / Aware Hindu / Active Hindu, Hindu Ahead – Hindu Rashtra Pledge Booklets will be made available on requests on any of the above details.

hinduahead@gmail.com –  www.facebook.com/togadia

हिन्दुओं की सुरक्षा और समृद्धि के लिए ‘हिन्दू ही आगे’ अभियान का आरम्भ

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के परम पूजनीय सरसंघचालक मा . श्री मोहन जी भागवत द्वारा ‘हिन्दू ही आगे’ का उदघाटन

कर्णावती (अहमदाबाद), 31 मार्च,2013 भव्य विशाल हिन्दू संगम में ‘हिन्दू ही आगे’ इस अभिनव अभियान का उदघाटन किया गया। हिन्दुओं की सुरक्षा और समृद्धि इस अभियान के सूत्र हैं। इस हेतु भारत के हर गाम, तहसील, जिला, शहर, वनवासी क्षेत्र इन सभी स्थानों पर ‘हिन्दू ही आगे’ पहुँचेगा। सभी स्तरों पर ‘हिन्दू ही आगे’ के संयोजक आदि जोड़े जायेंगे – नेटवर्क प्रणाली और पंजीकरण शुरू हो गया है।

कर्णावती (अहमदाबाद) के कांकरिया फुटबोल मैदान में विशाल हिन्दू संगम में ‘हिन्दू ही आगे’ का भव्य चिन्ह (लोगो) – सुरक्षा और समृद्धि की सीढ़ियों पर अग्रेसर हिन्दू – का अनावरण एवं ‘हिन्दू ही आगे’ अभियान का उदघाटन करते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख परम पूजनीय सर संघ चालक माननीय श्री मोहन जी भागवत ने मार्गदर्शन करते हुए कहा,”हम चाहते हैं कि हिन्दू ही आगे रहें। भारत के लिए हम हिन्दू ही आगे देखना चाहते हैं। ऐसा अच्छा, पक्का और सच्चा हिन्दू खड़ा करना है जो आचरण से भी हिन्दू हो। हिन्दू विचारों में हिन्दू होता है; किंतु व्यवहार में इतना नहीं। हमें आचरण से भी हिन्दू चाहिए। जहाँ सत्त्व है, वहाँ बल है और वहीँ लक्ष्मी है! सत्त्व का अर्थ है – आचरण से हिन्दू बनें । आप के अधिकारी इस हिन्दू संगम में आप को मार्गदर्शन करेंगे, आप उसे हृदयंगम कीजिये। राम नाम के जाप भी करिए।”

विश्व हिन्दू परिषद् के अध्यक्ष श्री राघव जी रेड्डी ने कहा, “आज हिन्दू समाज हर स्थान पर खतरे में है। पाकिस्तान,बांगला देश से लेकर भारत में भाग्यनगर (हैदराबाद ), असाम, काश्मीर, केरल और अन्य राज्यों में हिन्दुओं पर हमले हो रहे हैं, गौ माताओं को काटा जा रहा है, मंदिर तोड़े जा रहे हैं, हिन्दू माता-भगिनी सुरक्षित नहीं। ऐसे में विश्व हिन्दू परिषद् की भगवान् श्रीराम मंदिर के प्रति कटिबद्धता एवं ‘हिन्दू ही आगे’ के द्वारा नए विजन के साथ हिन्दुओं को हिन्दू समाज के लिए जोड़ने का यह प्रयास, इससे विश्व हिन्दू परिषद् के कार्यकर्ताओं में भी नया जोश आएगा और हिन्दू भी सुरक्षित, समृद्ध होगा। अब विश्व हिन्दू परिषद् को भारत की प्रगति में नयी महत्त्व की भूमिका निभानी है, इसमें ‘हिन्दू ही आगे’ का महत्त्व का योगदान होगा।”

विशाल हिन्दू संगम में ‘हिन्दू ही आगे’ की संकल्पना और कार्य समझाते हुए विश्व हिन्दू परिषद् के आंतरराष्ट्रीय कार्याध्यक्ष डॉ प्रवीण तोगड़िया जी ने कहा, “भारत – जो युगों युगों से हिन्दू राष्ट्र है, उसमें आज हिन्दुओं के घर, नौकरियाँ, जीवन, व्यवसाय, जमीनें, माता-भगिनी सुरक्षित नहीं। जहाँ सुरक्षा नहीं, वहाँ समृद्धि जल के बुलबुले जैसी होती है। हिन्दुओ को अन्न, आरोग्य, व्यवसाय/पारंपरिक उद्योग, कृषि, शिक्षा, नौकरियाँ, क़ानून आदि में याने की सुरक्षित भविष्य के सभी अंगों में साथ देकर उन्हें अग्रेसर करने हेतु और उस समृद्धि को सुरक्षित भी करने हेतु आरम्भ हुआ है एक अभिनव अभियान – हिन्दू ही आगे। सरकारें, सत्ता के पीछे भागनेवाले राजनेता, हिन्दुओं को निंदा का विषय बनानेवाले मिथ्या सेक्युलर, हिन्दू विरोधी क़ानून आदि सभी के जंजाल से ऊपर उठकर अब हिन्दुओं की भलाई के लिए विश्व हिन्दू परिषद् का यह ‘हिन्दू ही आगे’ अभियान गाँवों गाँवों, कसबों कसबों तक पहुंचेगा। अब हिन्दू अकेला नहीं। हिन्दू हेल्प लाइन से शुरू हुयी हिन्दुओं के कल्याण की चिंता करने की विश्व हिन्दू परिषद् की प्रवृत्ति अब ‘हिन्दू ही आगे’ के भव्य स्वरूप में हिन्दुओं की सुरक्षा और समृद्धि हेतु प्रतिबद्ध रहेगी। ‘हिन्दू ही आगे के 3 अंग हैं: आचरण में हिन्दू, जागृत हिन्दू और सक्रिय हिन्दू। हिन्दू होना जन्म से मिला लेकिन आचरण में भी हम हिन्दू हो। वृद्धों को, गरीब हिन्दू को हर दिन सहाय करना, तुलसी को जल, गौ माता को खाना, भगवान् को दीप, सप्ताह में कम से कम एक दिन परिवार के साथ भोजन, आदि छोटी छोटी क्रियाएं आप को ‘आचरण में हिन्दू’ का सम्मान देगी। हिन्दुओं के विषय में अनेक घटनाएँ आस पास होती हैं। ‘मेरा उनसे क्या सम्बन्ध’ ऐसा बाकी हिन्दू मानेंगे तो हर दिन हिन्दू और ही निर्बल होगा। रोजमर्रा के जीवन में, नौकरी/व्यवसाय में बहुत कुछ नहीं कर सकते, लेकिन ऐसी घटनाओं की चर्चा कमसे कम 10 लोगों से करना, इमेल भेजना, फेस बुक पर पोस्ट करना, घटना की सत्य जानकारी लेना-देना इतना भी करने से आप ‘जागृत हिन्दू’ हो जाते हैं। यह कृति के मार्ग पर पहला कदम होता है। सक्रिय हिन्दू याने हर समय कोई आन्दोलन करना आवश्यक नहीं! जो जानकारी मिली, उस के आधार पर कहीं हिन्दुओं पर आप के गाम में, शहर में अन्याय (और देश में भी) हो रहा हो, तो अपने मित्रों के साथ छोटा ग्रुप बनाना, चर्चा कर स्थानीय प्रशासन को निवेदन देना, जिस पर अन्याय / अत्याचार हुआ हो, उस परिवार / समुदाय की अन्न जल, आरोग्य की चिंता करना, बेनर – फलक – लगाना ये भी ‘सक्रिय हिन्दू’ के ही कार्य हैं। सुरक्षा है, तो ही हिन्दू समृद्ध होगा और वह समृद्धि टिकी रहेगी। ‘हिन्दू ही आगे’ के कार्यक्रमों में यह सुनिश्चित किया गया है कि हर हिन्दू को अन्न और हर हिन्दू युवा को काम मिलें। हमारे पास सरकार नहीं; लेकिन हिन्दू एक होकर हर हिन्दू के लिए आगे आयेंगे, तो यह अवश्य होगा। ‘हिन्दू ही आगे’ ने सुरक्षा में अनेक विषयों पर ठोस कार्यक्रम तय किये हैं: अन्न सुरक्षा, शिक्षा सुरक्षा, नौकरी / व्यवसाय सुरक्षा, आरोग्य सुरक्षा, कानूनी सुरक्षा, जीवन सुरक्षा! हिन्दू कोई भावनाशून्य मत-बेंक नहीं। हिन्दुओं की भी सुरक्षित और समृद्ध भविष्य की अपेक्षाएं हैं और ये दोनों हर हिन्दू का व्यक्ति के नाते, हिन्दू समाज का बहुसंख्य होने के नाते और भारत का हिन्दू राष्ट्र के नाते अधिकार भी हैं! हिन्दू ही आगे अभियान में जुड़ना आसान है- आचरण में हिन्दू बनिए और ‘हिन्दू ही आगे का बेज – स्टार बिल्ला- पाइये; जागृत हिन्दू बनिए और जागृत हिन्दू का स्टार पाइये; सक्रिय हिन्दु बनिए और तीस्ता स्टार पाइये! तीनों साथ साथ भी हो सकते हैं। उस की प्रकिया, फॉर्म, संपर्क आदि यहाँ हैं।”

डॉ तोगड़िया जी ने आगे कहा, “विश्व हिन्दू परिषद् लम्बा कठीन धर्मपथ चल कर हिन्दुओं के साथ हिन्दुओं के लिए आगे बढ़ रही है। हमारी भगवान् श्रीराम मंदिर के प्रति प्रतिबद्धता और ‘हिन्दू ही आगे’ की हिन्दू सुरक्षा और समृद्धि के लिए शक्ति दोनों साथ मिलाकर विश्व हिन्दू परिषद् 100 करोड़ हिन्दुओं की सम्पूर्ण शक्ति बनकर उभरेगी। युगों की परंपरा और युवा हिन्दुओं की सुरक्षा और समृद्धिके स्वप्नों की पूर्ती यह सम्पूर्णता केवल विश्व हिन्दू परिषद् में है और इस कार्य में हमें संघ के आशीर्वाद और सहयोग मिल रहे हैं, इन से हमारी शक्ति द्विगुणित हुयी है। गुजरात के 18,000 से अधिक गाँवों में, शहरों के अनेक स्थानों पर इस जन्माष्टमी तक ‘हिन्दू राष्ट्र’ के फलक विश्व हिन्दू परिषद् लगाएगी और आचरण में, जागृत एवं सक्रिय हिन्दू का ‘हिन्दू ही आगे’ अभियान चलाएगी। आनेवाले समय में हिन्दू राष्ट्र भारत के 1 लाख गावों तक पहुँचने के कार्यक्रम ‘हिन्दू ही आगे’ की ओर से बनाए जायेंगे। सभी हिन्दुओं को एक होकर, हाथ में हाथ मिलाकर, हिन्दू राष्ट्र का झंडा लहराकर खड़े होने की आवश्यकता है।”

हिन्दू संगम में ‘हिन्दू राष्ट्र’ की संकल्प प्रतिज्ञा भी सभी से कराई गयी – ‘हिन्दू ही आगे’ की पुस्तिका में यह प्रतिज्ञा और फॉर्म्स दिए हैं।

विश्व हिन्दू परिषद् के अखिल भारतीय जाइंट जनरल सेक्रेटरी श्री विनायक राव जी देशपांडे ने कहा, “गाँवों गावों तक विश्व हिन्दू परिषद् पहुंची है। अब इनसे भी दूर-दराज के क्षेत्रों में – कसबों – बाड़ियों में, वनवासी क्षेत्रों में और शहरों के हिन्दुओं तक भी विश्व हिन्दू परिषद् का कार्य पहुंचाने हेतु सभी कार्यकर्ता तैयार हो। नया जोश लेकर हिन्दू ही आगे बढ़ें।”

गुजरात विश्व हिन्दू परिषद् के अध्यक्ष एडवोकेट दिलीपभाई त्रिवेदी जी ने सभी का स्वागत भाषण किया।

गुजरात विहिम्प के कार्याध्यक्ष डॉ कौशिकभाई मेहता ने कहा, “अयोध्या में भगवान् श्रीराम जी का भव्य मंदिर हम बनाकर ही रहेंगे। आनेवाली चैत्र शुद्ध प्रतिपदा से अक्षय्य तृतीया तक लाखों हिन्दुओं द्वारा राम नाम की 13 मालाएं करने का अभियान गुजरात विहिम्प के कार्यकर्ता करेंगे। हर हिन्दू अब यहाँ आचरण में, जागृत और सक्रिय हिन्दू बनेगा।”

 गुजरात विहिम्प के महामंत्री श्री रणछोड़भाई भरवाड जी ने कहा, “अब हर हिन्दू धर्म और समाज के लिए थोडा अपना समय दान करें। ‘मैं, मेरा, मेरे लिए’ इस संकुचित सोच में हिन्दू समाज पर होनेवाले अन्याय के विरुद्ध हर हिन्दू उठ खड़ा नहीं होता और हिन्दू विरोधियों की गतिविधियाँ चलती रहती हैं। सभी हिन्दू मिलकर हिन्दू सुरक्षा और समृद्धि को साथ में आगे ले जाएँ।” हिन्दू संगम में पूजनीय संत श्री नवोत्तम स्वामी जी – वडताल और श्री पुरुषोत्तमचरण शास्त्री जी – झुन्डाल उपस्थित थे और उन्होंने भी ‘हिन्दू ही आगे’ को आशीर्वाद दिए।

हिन्दू ही आगे’ में जुड़ने के लिए एस एम् एस भेजे: 98705 91237 – आप का नाम, पता, फ़ोन इमेल, फेस बुक आदि उस पर लिखें। हिन्दू ही आगे की अधिक जानकारी के लिए : www.facebook.com/HinduAhead और www.facebook.com/HinduNewsNetwork देखें। आप के बारे में लिखे: hinduahead@gmail.com पर।