श्रीराम जय राम जय जय राम, শ্ৰীৰাংজয়ৰাংজয়জয়ৰাং, শ্রীরাম জয় রাম জয় জয় রাম , શ્રીરામ જય રામ જયજય રામ, ಶ್ರೀರಾಮಜಯರಾಮಜಯಜಯರಾಮ, ശ്രിറാം ജയ് റാം ജയ്‌ ജയ് റാം, శ్రీరాంజయరాంజయజయరాం

श्रीक्षेत्र पुरी रथयात्रा मे विश्व हिन्दु परिषद सेवा विभाग के माध्यम से सेवा कार्य

जगन्नाथ स्वामि नयनपथगामी भवतुमे

रथयात्रा मे बिश्व हिन्दु परिषद सेवा बिभाग के मध्यम से सेबा कार्य

सामाजिक समरसता का ज्बलन्त उदाहरण पबित्र रथयात्रा उडिआ सांस्कृतिक जीबन का गौरबगाथा है । चार धाम मे से अनयतम श्रीक्षेत्र पुरी मे अपुर्ब आनन्द उल्लास के साथ तिनि ठाकुर, सुदर्शन महाप्रभू पहण्डी बिजे ,छेरापहरा के उपरान्त रथ कार्य सुरु हुआ है । हरिबोल,हुलहुलि, शङ्खनाद,घण्टघण्टा, मे चारोदिग कम्पमान होरहा था । 12लाक्ष से अधिक भक्त आनन्दसे नाच रहे थे ।

देश बिदेश से आए हुए भक्तोका सेबा करनेका सुयोग हमे मिला है । भक्तौ केलिए हमे पानीय जल ,भोजन आदि के सुबिधा कि थि ।यह कार्य मे 50 कार्यकर्ता शुभ: से साम तक सेबा देरहे थे ।50000जल पाउच के साथ साथ 20000 भोजन पयाकेट हमने बितरण कि है ।हमारा आम्बुलानस सुभ: 9बजे से लेकर सायं 5बजे तक निरन्तर सेबा दे रहा था । कटक मेडिकाल कलेज का अभिज्ञ डाक्तर डा रमेश चन्द्र दाश,डा लळाटेन्दु पट्टनायक , डा सितांसु मिश्र ,डा सुब्रत सामन्तराय, डा गणेशजी ,डा सन्तोस जी आदि चिकिस्छा सेबा के साथ साथ दबाइ भि दे रहे थे ।यह कार्य मे जळेशपटा शङ्कराचार्य कनयाश्रम से आएहुए कार्यकर्ता साथ देरहे थे । इं भरत चन्द्र स्बाइं,श्री हरिष चन्द्र प्रधान (प्रान्त सेबा प्रमुख) ,और जिल्ला के पदाधिकारि यह कार्य का संचालन कर रहे थे । आज भि हमारा निशुल्क दबाइ बितरण का कार्य चालु है , यह कार्य बाहुडा यात्रा तक चलेगि ।