श्रीराम जय राम जय जय राम, শ্ৰীৰাংজয়ৰাংজয়জয়ৰাং, শ্রীরাম জয় রাম জয় জয় রাম , શ્રીરામ જય રામ જયજય રામ, ಶ್ರೀರಾಮಜಯರಾಮಜಯಜಯರಾಮ, ശ്രിറാം ജയ് റാം ജയ്‌ ജയ് റാം, శ్రీరాంజయరాంజయజయరాం

वड़ताल धाम में विश्व हिन्दू परिषद सेवा विभाग की अखिल भारतीय बैठक संपन्न

विश्व हिन्दू परिषद सेवा विभाग की अखिल भारतीय बैठक दिनाक 14 तथा 15 मार्च 2015 के दिन वड़ताल धाम में संपन्न हुई ।

केरल, कर्णाटक, आंध्रप्रदेश, मध्यप्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गुजरात, बंगाल, महाराष्ट्र, कोंकणआदि 24 प्रान्तों के प्रान्त सेवा प्रमुख/सह सेवा प्रमुख तथा सेवा कुम्भ समिति के अध्यक्ष उपस्थित रहे ।

पंजाब के पूज्य वागीश शास्त्रीजी, अखिल भारतीय सेवा प्रमुख श्री अरविंदभाई ब्रह्मभट्ट, सह सेवा प्रमुख श्री मधुकर रावजी दीक्षित (गोवा) तथा श्री नंदलालजी लोहिया (बंगाल) ने दीप प्रज्ज्वलित करके अखिल भारतीय सेवा विभाग की बैठक का शुभारम्भ किया ।

कर्णावती क्षेत्र के मंत्री माननीय श्री रणछोड़भाई भरवाड ने स्वागत भाषण दिया, तत्पश्चात विश्व हिन्दू परिषद् के केन्द्रीय मंत्री एवं अखिल भारतीय सेवा प्रमुख श्री अरविंदभाई ब्रह्मभट्ट ने देश भर से आये सभी कार्यकर्ताओं को सेवा कुम्भ कार्यक्रम के आयोजनों की सफलता के लिए साधुवाद दिया साथ ही विहिप के स्वर्ण जयंती महोत्सव में विविध सेवा कार्यों तथा प्रकल्पों के गुणात्मक एवं संख्यात्मक प्रगति को बढ़ाने का संकल्प लेने का अनुरोध किया । सम्पूर्ण देश में )15 स्थानों पर आयोजित सेवा कुम्भ के कार्यक्रम )सेवा संगठन और नये-नये क्षेत्रों में जहां जरूरत है वहां सेवा प्रकल्प शुरू करने का भी अनुरोध किया ।

दो सत्रों में विविध प्रान्तों के द्वारा किये गए सेवा कुम्भ का वृत्त निवेदन किया गया, जिसमें पश्चिम बंगाल का सेवा कुम्भ जो कलकत्ता में हुआ था उसका विशेष उल्लेख किया  गया । उस सेवा कुम्भ में महामहिम राज्यपाल श्री केशरीनाथ त्रिपाठी एवं विहिप के कार्याध्यक्ष माननीय डॉक्टर प्रवीणभाई तोगडि़या उपस्थित रहे ।

गुजरात के भरूच शहर में जो सेवा कुम्भ हुआ उसमें सरकार्यवाहजी माननीय भैयाजी जोशी, सह-संगठन महामंत्री माननीय विनायक रावजी, माननीय बालकृष्णजी नाईक उपस्थित रहे ।

महाराष्ट्र के चिंचवाड़ में आयोजित सेवा कुम्भ में माननीय दिनेश चन्द्रजी (संगठन महामंत्री), कर्णाटक के बेलगांव और हरिद्वार में आयोजित सेवा कुम्भ में अंतरराष्ट्रीय महामंत्री माननीय चम्पतराय जी एवं योगाचार्य आचार्य बालकृष्णजी (पतंजली विद्यापीठ) उपस्थित रहे ।

सेवा विभाग के केंद्रीय मंत्री एवं अखिल भारतीय सेवा प्रमुख श्री अरविंदभाई ब्रह्मभट्ट, सह सेवा प्रमुख मधुकर रावजी दीक्षित, नंद्लालजी लोहिया तथा केंद्रीय सहमंत्री श्री आनंद प्रकाश हरबोलाजी ने सेवा कुम्भ के आयोजन में उपस्थित रह कर मार्गदर्शन दिया ।

भारत में 15 स्थानों में सेवा कुम्भ हुए जिसमें 138 ट्रस्टों के 2331 ट्रस्टी/कार्यकर्ता सहभागी हुए । सार्वजनिक सांस्कृतिक कार्यक्रमों में 166 सेवा संस्थाओं के 4478 विद्यार्थी एवं विद्यार्थिनियों के द्वारा रंगा-रंग प्रस्तुत किये गए ।

छात्रालय, बाल कल्याण केंद्र एवं विद्यालयों के बालकों द्वारा परम्परागत लोक नृत्य, कथक, भरतनाट्यम, नाटिका, संस्कृत नाटक, अभिनय गीत, सामूहिक योगासन, गरबा-रास, देश-भक्ति गीत तथा वेशभूषा जैसे प्रभावित कार्यक्रम प्रस्तुत किये गए । इन सभी कार्यक्रमों को देखने के लिए 13450 व्यक्ति सम्मिलित हुए ।

केंद्र सरकार के पेट्रोलियम मंत्री माननीय श्री धर्मेन्द्र प्रधान और गुजरात के राज्य कक्षा के मंत्री माननीय  छत्रसिंह मोरी विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित रहे ।

विश्व हिन्दू परिषद से प्रेरित विविध सेवा प्रकल्पों में 21.3.15 से 5.4.2015 में राम महोत्सव के कार्यक्रम, 17.6.2015 से 16.7.2015 तक वृक्षारोपण, नेत्र दान और अगस्त-सितम्बर महीने में सामाजिक समरसता हेतु “सर्व जन हिताय, सर्व जन सुखाय” हेतु देश भर में 100 यज्ञों का आयोजन किया जाएगा ।

विश्व हिन्दू परिषद में स्वर्ण जयंती के समय सेवा विभाग का संगठन, दृढ़ीकरण, सेवा कार्य विस्तार, कार्यकर्ता प्रशिक्षण और केंद्रीय पदाधिकारियों के प्रवास तथा नई योजनाए बनाई गई । भारत के प्रत्येक जिले में छोटे-बडे़ सेवाकार्यों को स्थापित करे, ऐसा संकल्प लिया गया ।

पूज्य नौतम स्वामी, पूज्य देवप्रसाद स्वामीजी के द्वारा  www.vhpsewa.org वेबसाइट का उद्घाटन किया गया ।

समापन समारोह में अखिल भारतीय सेवा प्रमुख श्री अरविंदभाई ब्रह्मभट्ट के द्वारा केंद्रीय सेवा बैठक की कार्यवाही का प्रतिवेदन किया गया ।

वड़ताल मन्दिर के सह कोठारी पूज्य श्री देव स्वामीजी, पूज्य श्री नौतम प्रकाश शास्त्री जी, पूज्य श्री पूर्णवल्लभ स्वामीजी ने कार्यकर्ताओं को स्वामीनारायण भगवान की महिमा और वड़ताल धाम के बारे में समझाया तथा आशीर्वाद दिया ।

इस प्रसंग पर USA के पूज्य श्री देवस्वामी, उज्जैन के पूज्य श्री आनंद जीवन स्वामी तथा वड़ोेदरा के श्री गुरू डॉ. आनंदमय शास्त्रीजी ने कार्यकर्ताओं को आशीर्वचन दिया । इस बैठक के आयोजन में वड़ताल कोठारी स्वामीजी और वहां के सेवकों की प्रशंसा की गई । बैठक का संचालन श्री आनंद प्रकाश हरबोला केंद्रीय सहमंत्री के द्वारा किया गया । देश भर में से पधारे हुए सभी कार्यकर्ताओं को वड़ताल धाम के दर्शन से धन्यता की अनुभूति प्राप्त हुई । परम पूज्य श्री आचार्य श्री राकेश प्रसाद महाराज, टेम्पल बोर्ड के चेयरमैन पूज्य श्री घनश्याम महाराज जी एवं पूज्य कोठारी स्वामीजी का विश्व हिन्दू परिषद के द्वारा आभार व्यक्त किया गया ।

गुजरात के क्षेत्रीय संगठन मंत्री श्री रोहितभाई दरजी, उत्तर गुजरात के सह सेवा प्रमुख श्री कौशिक भाई पटेल, उ.गु. सहसेवा प्रमुख श्री भगुभाई पटेल तथा विभाग संगठन मंत्री श्री लालभाई कडिया के द्वारा बैठक की व्यवस्था की गई ।