श्रीराम जय राम जय जय राम, শ্ৰীৰাংজয়ৰাংজয়জয়ৰাং, শ্রীরাম জয় রাম জয় জয় রাম , શ્રીરામ જય રામ જયજય રામ, ಶ್ರೀರಾಮಜಯರಾಮಜಯಜಯರಾಮ, ശ്രിറാം ജയ് റാം ജയ്‌ ജയ് റാം, శ్రీరాంజయరాంజయజయరాం

रामलीला मैदान से निकली रामनवमी की विशाल शोभायात्रा

रामलीला मैदान से निकली रामनवमी की विशाल शोभायात्रा

राम जन्म भूमि पर भव्य मंदिर बन कर रहेगा : प्रवीण भाई तोगडिया

नई दिल्ली। मार्च 28, 2015। इन्द्रपस्थ विश्व हिन्दू परिषद् के तत्वावधान में हिन्दू पर्व समन्वय समिति, दिल्ली एवं दिल्ली की विभिन्न धार्मिक, सामाजिक, शैक्षणिक संस्थाओं द्वारा श्रीराम नवमी के पावन अवसर पर रामलीला मैदान से गंगेश्वर धाम, करोल बाग तक विशाल शोभायात्रा का आयोजन किया गया। शोभायात्रा में सौ से अधिक विभिन्न स्वरूपों की झांकियां एवं भजन मण्डलियां सम्मिलित थीं। सर्वप्रथम हनुमान ध्वज के साथ खुली जीप में विभिन्न संस्थाओं के पदाधिकारी व प्रमुख संत भगवा साफा बांधे चल रहे थे। तत्पश्चात, हाथी, घोडे, ऊंट व बाइक सवारों के साथ श्रीराम धुन बजाते अनेक बैण्ड-बाजों के बीच विविध रूपों की सुन्दर झाँकियां चल रही थीं। संतों की अगुवाई में चली शोभायात्रा में इस बार बौद्ध भिक्षुओं की सहभागिता, योग, यज्ञ तथा स्वच्छ भारत की झांकियाँ, मार्ग में रंगोली, सवा सौ स्वागत द्वार, देश की सांस्कृतिक विरासत को दर्शाते हुए पांच विशाल मंच, विद्यालय के छात्रों की प्रस्तुतियों के साथ महिला सशक्तिकरण की अनूठी पहचान – दुर्गा वाहिनी की घुड़सवार टोली तथा बजरंग दल का शौर्य प्रदर्शन यात्रा आकर्षण के केंद्र रहे।

यात्रा को भगवा झंडी दिखाकर रवाना करते हुए विहिप के अंतर्राष्ट्रीय कार्याध्यक्ष डा प्रवीण भाई तोगडिया ने कहा कि अयोध्या में राम जन्म भूमि पर भव्य मंदिर बन कर रहेगा. “मन्दिर वहीँ, अयोध्या में कोई नई मस्जिद नहीं तथा बाबर के नाम पर भारत में कहीं नहीं” के संकल्प के साथ अब मंदिर निर्माण के निश्चित मार्ग “संसदीय कानून” का समस्त हिन्दू समाज प्रतीक्षा कर रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि आज राम नवमी के पावन दिन हम एक और संकल्प भी लें कि हम “छुआछूत मुक्त भारत” बनाएंगे. हम एक अनुसूचित जाति परिवार को मित्र बना कर “हिन्दू परिवार मित्र”, “हर गाँव में कुएं का पानी सब के लिए, मंदिर में प्रवेश सब के लिए, एक पंगत में भोजन सब के लिए तथा अंतिम संस्कार का स्थान सबके लिए” को सुनिश्चित करने हेतु काम करेंगे। हर जाति-विरादरी से मिलकर संतों के मार्ग दर्शन में छुआछूत मुक्त भारत बनाएंगे. दिल्ली के मेयर श्री योगेन्द्र चंदोलिया ने कहा कि प्रत्येक राजधानी वासी को भगवान श्री राम के जीवन का कम से कम एक गुण अवश्य धारण करना चाहिए।

उदघाटन अवसर पर विश्व हिन्दू परिषद् के उपाध्यक्ष श्री ओम प्रकाश सिंहल, सनातन धर्म प्रतिनिधि सभा के अध्यक्ष पूज्य स्वामी राघवानन्द ज़ी महाराज, स्वामी अनुभूतानन्द जी, तथा हिन्दू पर्व समन्वय समिति के अध्यक्ष श्री ब्रजमोहन सेठी महा मंत्री श्री राम पाल सिंह ने भी संवोधित किया.

इस अवसर पर विश्व हिन्दू परिषद् – इन्द्रप्रस्थ के अध्यक्ष श्री रिखब चन्द जैन, महामंत्री श्री राम कृष्ण श्रीवास्तव, हिन्दू पर्व समन्वय समिति के महामंत्री श्री राम पाल सिंह यादव, सनातन धर्म प्रतिनिधि सभा के श्री मनोहर लाल कुमार, धर्मयात्रा महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री मांगेराम गर्ग, राष्ट्रवादी शिव सेना के अध्यक्ष श्री जयभगवान गोयल, दिल्ली संत महा-मंडल के महंत नवल किशोर दास, हनुमान वाटिका के पूज्य महंत श्री रामकृष्ण दास महात्यागी, श्री विवेक शाह जी महाराज, बजरंग दल दिल्ली के प्रान्त संयोजक श्री नीरज दोनेरिया, दुर्गा वाहिनी संयोजिका श्रीमती संजना चौधरी भी उपस्थित थे।

समिति के प्रवक्ता श्री विनोद बंसल ने बताया कि आज की इस भव्य शोभायात्रा में सनातन धर्म प्रतिनिधि सभा, भारत स्वाभिमान मंच, पतंजलि योग पीठ, अग्रोहा विकास ट्रस्ट, भारत तिब्बत सहयोग मंच, सनातन संस्था, आर्य समाज, जैन समाज, वाल्मीकि समाज, रवि-दास समाज, बौद्ध समाज सहित विभिन्न मत-पंथ सम्प्रदायों व मन्दिरों की झांकियां विविधता में एकता के दर्शन करा रहीं थीं। यात्रा मार्ग में सवा सौ स्वागत द्वार, देश की सांस्कृतिक विरासत को दर्शाते हुए पांच विशाल मंच तथा विद्यालय के छात्र-छात्राओं द्वारा धार्मिक व सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति भी बेहद मन-मोहक थी।

रामलीला मैदान से प्रारम्भ होने के पश्चात यात्रा का आसफ अली रोड, दरियागंज, चांदनी चौक, टाऊन हाल, खारी बावली, सदर बाजार, पहाडी धीरज, एम.एम. रोड, माडल बस्ती आदि क्षेत्रों में भव्य स्वागत हुआ। दोपहर दो बजे रामलीला मैदान से प्रारम्भ हुई यह विशाल यात्रा रात्रि लगभग 8.00 बजे गंगेश्वर धाम, करोल बाग में पूज्य स्वामी आनंद भास्कर जी महाराज के आशीर्वचन से सम्पन्न हुई।