श्रीराम जय राम जय जय राम, শ্ৰীৰাংজয়ৰাংজয়জয়ৰাং, শ্রীরাম জয় রাম জয় জয় রাম , શ્રીરામ જય રામ જયજય રામ, ಶ್ರೀರಾಮಜಯರಾಮಜಯಜಯರಾಮ, ശ്രിറാം ജയ് റാം ജയ്‌ ജയ് റാം, శ్రీరాంజయరాంజయజయరాం

विहिप के अंतर्राष्ट्रीय संयुक्त महा सचिव का प्रेस वक्तव्य

कैराना की घटना जिहादियों के षड्यंत्र का नतीजा, होश में आए प्रदेश सरकार : विहिप
नई दिल्ली जून 13, 2016 कैराना से हिन्दुओं के पलायन को विश्व हिन्दू परिषद(विहिप) ने बहुत दुर्भाग्यपूर्ण बताया है| विहिप के अंतर्राष्ट्रीय संयुक्त महासचिव डा सुरेन्द्र जैन ने आज कहा कि 40 वर्ष पहले जो क़स्बा हिन्दू बहुल था आज वहां केवल 8% हिन्दू ही शेष रह गया है| उत्तर प्रदेश में कैराना के अलावा अन्य कई शहर और कस्बे हैं जहां से हिन्दुओं का पलायन बहुत तेजी से हो रहा है | कांधला, थानाभवन और गंगोह के अलावा प. उत्तर प्रदेश के कई कस्बों में हिन्दुओं की यही दुर्दशा दिखाई दे रही है| इन सब स्थानों में हिन्दुओ की यह दुरावस्था एक दिन में नहीं बनी है| इसी स्थिति को देखते हुए 15 वर्ष पूर्व उ.प्रदेश के पूर्व राज्यपाल महामहिम राजेश्वर राव ने चेतावनी दी थी  कि “प. उत्तर प्रदेश में कई पाकिस्तान पनपते हुए दिखाई दे रहे हैं”| दुर्भाग्य से वहां पर शासन करने वाले दलों ने देश ओर प्रदेश के हितों की जगह मुस्लिम वोटों को प्राथमिकता दी| अपराधी तत्वों पर कार्यवाही करने की जगह उनको संरक्षण दिया| हिन्दुओं पर हो रहे अत्याचारों की अनदेखी की और जेहादियों को प्रोत्साहन दिया| लेकिन अब इन सबको समझ लेना चाहिए कि हिन्दू समाज आत्मरक्षा के लिए स्वयं तत्पर हो गया है| इसके परिणाम पहले भी देखे जा चुके हैं| विश्व हिन्दू परिषद् उत्तर प्रदेश सरकार से अपील करता है कि वे आजम खान जैसे  जेहादी तत्वों के चंगुल से बाहर निकल कर, कानून व्यवस्था बहाल करे| आजम खान के इस बयान कि ,” कैराना का विषय दंगाई ही उठा रहे हैं”, से  यह स्पष्ट हो गया है कि समस्त उ.प्रदेश में हिन्दू विरोधी और राष्ट्र विरोधी षड़यंत्र उनके ही  संरक्षण में हो रहे हैं| वे ही दंगाइयों और आतंकवादियो के रहनुमा के तौर पर काम कर रहे हैं| विहिप आजम खान के इस वक्तव्य की कठोर निंदा करती है| अगर आजम खान जैसों को जेल में नहीं पहुचाया गया तो इस सरकार की छवि पहले की तरह हिन्दू विरोधी बन जाएगी जो आत्मघाती सिद्ध होगी|
विश्व हिन्दू परिषद् जेहादी तत्वों को चेतावनी देती है कि वे जेहादी मानसिकता से बाहर निकलें| हिन्दू उनके दुश्मन नहीं हैं| उनके पूर्वज हिन्दू ही थे जिन्होंने विदेशी हमलावरों के दबाव में आकर धर्म परिवर्तन किया था| आजम खान जैसे स्वार्थी मुस्लिम नेताओं और जेहादी मौलवियों के षड़यंत्र उनको विकास नहीं विनाश के मार्ग पर ले जायेगे| कोई भी हिन्दू को असहाय न समझे| हिन्दू समाज की सहनशक्ति  समाप्त होने के क्या परिणाम हो सकते हैं, ये सभी षड्यंत्रकारी कई बार देख चुके हैं|
डॉ जैन ने दिल्ली में पत्रकारों को सम्वोधित करते हुए आज यह भी कहा कि केवल उत्तर प्रदेश ही नहीं, भारत के कई अन्य प्रान्त जैसे बंगाल, आसाम, बिहार, जम्मू कश्मीर, केरल आदि के कई स्थानों पर हिन्दुओ पर इसी प्रकार के अत्याचार हो रहे हैं| इन सब स्थानों पर  हिन्दुओं को पलायन पर विवश करने के लिए लगभग एक जैसी कार्यशैली अपनायी जा रही है| हिन्दू लडकियों के साथ छेड़खानी, बलात्कार, अपहरण, हिन्दू व्यापारियों से लूटपाट, हिन्दुओ का तरह तरह से अपमान, उनकी संपत्ति पर अवैध कब्ज़ा करके उन्हें आतंकित किया जाता है| अगर सामाजिक दबाव के कारण प्रशासन उन पर कार्यवाही करता है तो आजम खांन जैसों के दबाव में उन्हें छोड़ना पड़ता है| हिन्दुओं पर होने वाले अत्याचारों के विरोध में कोई नहीं बोलता है परन्तु अगर कहीं हिन्दू आत्मरक्षा में खड़ा होता है तो समस्त सेक्युलर बिरादरी आसमान सिर पर उठा लेती है और पीड़ित हिन्दू समाज को ही अपराधी सिद्ध करने की कोशिश करती है| अपने आपको सेक्युलर कहलाने वाले ये लोग सबसे अधिक सांप्रदायिक हैं जो अपने स्वार्थो के लिए देश की सुरक्षा को भी खतरे में डाल देते हैं| अब इनकी कलई भी खुल रही हैं| विहिप का इनको सुझाव है कि अप्रासंगिक बनने से पहले ही इनको आत्मनिरीक्षण कर अपने पापों के लिए देश से क्षमायाचना कर लेनी चाहिए|
जारी कर्ता : विनोद बंसल (राष्ट्रीय प्रवक्ता-विहिप)
@vinod_bansal M-9810949109
Press Statement by Intl’ Joint Gen. Secretary VHP
Jihadis responsible for the Exodus of Hindus from Kairana, VHP calls upon state government to come to its senses
New Delhi | June 13, 2016: The VHP has termed the exodus of Hindus from Kairana as unfortunate. Dr Surendra Jain, Intl Jt General Secretary said that a township that was Hindu-majority 40 years ago is now having only 8-per cent Hindu. However, it is not only Kairana in Uttar Pradesh that is a mute testimony to the exodus of Hindus, there are many more places other than Kairana which are also witnessing this trend of mass out-migration of Hindus. Apart from Kandhla, Gangoh and Thanabhavan, there are many other places too in Western UP where Hindus are resorting to mass out-migration.This dismal state of affairs has not come about in one day. Fifteen years ago, the erstwhile Governor of UP, Shri Rajeshwar Rao had warned that many Pakistans were incubating in Western UP.Unfortunately the parties that have been governing UP have concentrated more on muslim vote-bank politics rather than the interests of the nation and the state. Instead of taking action against the criminals, they provided political patronage to them.
The atrocities perpetrated by the muslims were overlooked and the Jihadis encouraged to carry out their activities. But now these people must understand that the Hindus are prepared and can defend themselves. The result of such confrontations is already well-known. VHP calls upon the state government to rein in the Jihadi elements like Azam Khan in UP and tighten the law and order in the state. The statement of Azam Khan that “The issue of Kairana is being tossed up by the rioters only” only proves that all anti-Hindu and anti-national activities in UP is being carried out under the patronage of Azam Khan. Azam Khan seems to have become the godfather of the terrorists and rioters.
VHP strongly condemns the statement made by Azam Khan. If elements like Azam Khan are not put behind bars, then the image of this UP Govt will again become that of an anti-Hindu one and this will prove suicidal for the present dispensation. Vishwa Hindu Parishad warns the Jihadi elements to come out of their Jihadi mentality. They must understand that the Hindus are not their enemies, they must realise that their forefathers were Hindus only and converted to Islam under duress due to Islamic invasion. In following the footsteps of leaders like Azam Khan who have only their selfish motives to fulfil and the conspiratorial Jihadi maulvis, the muslims will only bring ruin and destruction upon themselves. No one should think that the Hindu is helpless or weak. The conspirators have seen in the past what can happen when the Hindu is pushed to the wall, he added.
While talking to reporters, Dr Jain also said that not only in UP but in many other parts of the country like Assam, Bengal, Bihar, Kerala and Jammu & Kashmir, Hindus are having to bear atrocities of the Muslim community. Interestingly, in all these places, there seems to be a method being used to compel Hindus to flee leaving behind their property and business. First of all the girls of the Hindu community are molested, raped or kidnapped, then the Hindu businessmen are looted, their property illegitimately occupied, they are terrorized, all kinds of abuses heaped on them leaving the Hindu with no choice but to flee. If at all some action is taken against them, then because of the intervention of Azam Khan, these criminals are again let off.
The atrocity against the Hindu never becomes an issue, in fact discussing it is taboo, but when the Hindu rightfully tries to defend itself, prepares itself in self-defense, then the secular brigade raises a hue and cry. In fact, they leave no stone unturned to prove that the Hindu is the culprit and not the other way round. In reality, it is this secular brigade that is communal, which will put even national security in jeopardy to further their selfish motive. However, the mask is now slipping, the VHP advises these people to introspect and apologize to the nation for their sins before they become completely irrelevant.
Released by- Vinod Bansal, National Spokesperson- VHP
@vinod_bansal M-9810949109