पूज्य श्री श्री शिवकुमार स्वामी के महाप्रयाण पर विहिप महामंत्री का संदेश

Press Statement:
VHP Secretary General Message on Mahaprayana of Dr. Shivakumar Swami Ji
New Delhi, Jan 22, 2019. The Vishwa Hindu Parishad (VHP) today condoles the Mahaprayan of SiddhaGanga Mutth mahaswami. In his message, VHP Secretary General Milind Parande said that respected Dr Shri Shri Shiv Kumar Mahaswamiji, Siddh Ganga Matth, Tumkuru, left for his heavenly abode after 111 years. The respected Maharaj ji was renowned as a “Living God.”
The Respected Maharaj ji had looked after the education and upkeep of more than 13000 students, throughout his life, without any kind of discrimination, based on caste, community or mode of worship.
When the Vishwa Hindu Parishad was established in Karnataka, respected Swamiji had himself blessed the occasion personally. It was in Respected Maharaj ji’s matth, that the golden jubilee celebrations of VHP were organized in 2014. Respected Swamiji had always blessed and guided the work undertaken by VHP.
Lakhs and lakhs of his devotees are feeling orphaned due to the Mahaprayana of Respected swami ji. We bow a million times to the feet of the pujya Mahaswami ji, the great social worker and spiritual guide.Milind Parande, Secretary General-VHP
पूज्य श्री श्री शिवकुमार स्वामी के महाप्रयाण पर विहिप महामंत्री का संदेश
नई दिल्ली. जनवरी 22, 2019. सिद्दगंगा मठ, तुमकूरु में पूज्य डॉ. श्री श्री शिवकुमार महास्वामीजी के महाप्रयाण पर विश्व हिन्दू परिषद् ने अपनी गहरी समवेदना व्यक्त की है. विहिप महा-मंत्री श्री मिलिंद परांडे ने अपने संदेश में आज कहा है कि पूज्य डॉ. श्री श्री शिवकुमार महास्वामी जी, सिद्दगंगा मठ, तुमकूरु ने अपने 111 साल के सार्थक जीवन को समाप्त कर आज अपना शरीर छोडा. पूज्य महाराज जी की समाज में ‘Living God’ ऐसी ख्याती थी। 13,000 से अधिक बालकों की संपूर्ण शिक्षा – दिक्षा पूज्य महाराज जी ने निरंतर अनेक वर्षों से जाति – संप्रदाय – उपासना का भेदभाव न रखते हुए जीवनभर की है।
उन्होंने कहा कि कर्नाटक में विश्व हिन्दू परिषद की स्थापना के समय पूज्य महाराज जी ने प्रत्यक्ष उपस्थित होकर आशीर्वाद दिया। सन् 2014 में पूज्य महाराज जी के मठ में ही विश्व हिन्दू परिषद का स्वर्ण जयंती महोत्सव संपन्न हुआ था। विश्व हिन्दू परिषद के कार्य का मार्गदर्शन तथा पोषण पूज्य महास्वामी जी ने निरंतर किया है।
पूज्य डॉ. श्री श्री शिवकुमार महास्वामी जी के महाप्रयाण से लाखों लाखों भक्तों के लिये जैसे सिर के उपर से छत्र ही नष्ट हुआ है। महान समाजसेवी, अध्यात्मिक मार्गदर्शक,पूज्य महास्वामी जी के चरणों में शत शत नमन।मिलिंद परांडे, महामंत्री, विश्व हिन्दू परिषद
जारी कर्ता :
विनोद बंसल
राष्ट्रीय प्रवक्ता
विश्व हिन्दू परिषद्,
ट्वीट: @vinod_bansal
M – 9810949109

You May Also Like