अवैध मतांतरण पर रोक हेतु बने केन्द्रीय कानून : डॉ सुरेन्द्र जैन

प्रेस वक्तव्य:

अवैध मतांतरण पर रोक हेतु बने केन्द्रीय कानून : डॉ सुरेन्द्र जैन

नई दिल्ली। अगस्त 08, 2021। छत्तीसगढ़ में अवैध धर्मांतरण को रोकने वाले एक निजी बिल को कांग्रेस के विधायकों ने विधानसभा में प्रस्तुत करने से जिस प्रकार रोका है विश्व हिंदू परिषद उसकी घोर निंदा करती है। इस महत्वपूर्ण प्राइवेट मेंबर बिल को रोके जाने पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए विहिप के केन्द्रीय संयुक्त महामंत्री डॉ सुरेन्द्र जैन ने आज कहा है कि कैन नहीं जानता कि आज छत्तीसगढ़ अवैध धर्मांतरण के राष्ट्र विरोधी षड्यंत्रों का सबसे बड़ा केंद्र बन गया है। इस वनवासी बहुल प्रांत की विशिष्ट पहचान को ईसाई मिशनरी समाप्त करना चाहते हैं। यही नहीं, राष्ट्र विरोधी नक्सल गतिविधियां भी चर्च के सहयोग से ही फल फूल रही हैं। इसके बावजूद कांग्रेस के द्वारा इस बिल का विरोध करना यह सिद्ध करता है कि वे निहित स्वार्थों के चलते राष्ट्रीय, सामाजिक व प्रदेश की जनता के हितों के विरोध में काम कर सकते हैं ।

डॉ जैन ने कहा कि कांग्रेस को यह स्मरण रखना चाहिए कि महात्मा गांधी ने कहा था कि स्वराज्य मिलते ही अवैध धर्मांतरण पर प्रतिबंध लगेगा। सरदार पटेल ने भी संविधान सभा की बहस में हस्तक्षेप करते हुए कहा था अगर अनुच्छेद 25 का दुरुपयोग होगा तो इसको रोकने के लिए केंद्रीय कानून अवश्य बनाया जाएगा। आजादी के बाद कुछ राज्यों में कांग्रेस ने ही धर्मांतरण विरोधी कानून बनाए थे। तब तक कांग्रेस पर महात्मा गांधी का प्रभाव था। परंतु, सोनिया गांधी की कांग्रेस अब महात्मा गांधी की कांग्रेस के विपरीत आचरण कर रही है।

उन्होंने कहा कि इन आरोपों को अब बल मिल रहा है कि भारत मे चर्च सोनिया गांधी के संरक्षण में ही धर्मांतरण का कार्य कर रहे है। अब यह भी स्पष्ट हो गया है कि तुष्टीकरण की आत्मघाती राजनीति के कारण भारत की सैक्युलर बिरादरी अवैध धर्मांतरण को रोकने की जगह प्रोत्साहन दे रही है। जिहादियों व चर्च के राष्ट्र विरोधी कृत्य इनके संरक्षण में ही चल रहे हैं। इनसे अवैध धर्मांतरण को रोकने की अपेक्षा ही नहीं की जा सकती।

उन्होंने यह भी कहा कि अब विहिप धर्मांतरण को रोकने के केंद्रीय कानून की मांग को अधिक पुरजोर ढंग से उठाती है। कांग्रेस का यह व्यवहार इस मांग को अधिक बल प्रदान करता है। विहिप केंद्रीय सरकार से अपील करती है कि वह महात्मा गांधी और सरदार पटेल के अधूरे वचन को अवश्य पूरा करें। ऐसे अधूरे कामों को पूरा करने के लिए देश इनसे ही अपेक्षा कर रहा है।

जारी कर्ता:

विनोद बंसल

राष्ट्रीय प्रवक्ता, विश्व हिंदू परिषद।

@vinod_bansal

 

Press Note:

VHP seeks central law to stop illegal Conversion

New Delhi. Aug 05, 2021. The Vishva Hindu Parishad (VHP) strongly condemns the way the Congress MLAs prevented a private member bill seeking prevention of illegal conversions from being presented in the Legislative Assembly in Chhattisgarh. Reacting on the same the VHP joint general secretary Dr. Surendra Jain today said that Chhattisgarh has become the biggest centre of anti-national conspiracies of illegal conversions. The X’ian missionaries want to liquidate and annihilate the unique identity of this Vanavasi/tribal majority State. Not only this, the anti-national Naxalite activities have also been flourishing only with the support of the Church. Despite this, opposition to this bill by the Congress proves that due to vested interests, they can work against national and social interests and the interests of the people of the state.

Dr. Jain said that the Congress should remember, Mahatma Gandhi had said that illegal conversions would be banned as soon as Swaraj was achieved. Sardar Patel, intervening in the debate of the Constituent Assembly, had also said that if Article 25 was misused, then a central law would inevitably/inescapably be made to stop it. After independence, the Congress itself had enacted anti-conversion laws in some states. Till then, the Congress was under the aura and influence of Mahatma Gandhi. But Sonia Gandhi’s Congress is now behaving contrary to Mahatma Gandhi’s Congress. These allegations are now gaining strength that the Church in Bharat has been doing the work of conversion under the patronage of Sonia Gandhi. It has now become clear that due to the suicidal politics of appeasement, the pseudo-secular fraternity of Bharat has been encouraging illegal conversions instead of stopping it! The anti-national activities of the Jihadis and the Church have been going on under the protection of these pseudo-secularists. They cannot be expected to stop illegal conversions.

Now the Vishva Hindu Parishad (VHP) more vigorously raises the demand for a central law to stop illegal horizontal religious conversions. This behaviour of the Congress gives more force to this demand. The VHP appeals to the central government that they must fulfil the unfinished promises of Mahatma Gandhi and Sardar Patel! The country expects them only to complete such unfinished works, he added.

 

Released by..

Vinod Bansal

National Spokesperson

Vishva Hindu Parishad

@vhpDigital @vinod_bansal