श्री हनुमान जयंती उत्सव

दिल्ली में तीन दर्जन स्थानों पर हुए सुन्दर काण्ड, हनुमान चालीसा व रात्रि जागरण

नई दिल्ली। अप्रेल 4 2015। विश्व हिन्दू परिषद की युवा शाखा बजरंग दल द्वारा बजरंग बली के प्रकटोत्सव हनुमान जयंती को धूम-धाम से मनाया गया। राजधानी में प्रांत संयोजक श्री नीरज दोनेरिया के नेतृत्व में लगभग तीन दर्जन स्थानों सुन्दर काण्ड के पाठ, हनुमान चालीसा का गायन तथा विशाल महा आरती का आयोजन कर भगवान बजरंग बली से बल, शील, शौर्य तथा भक्ति हेतु प्रार्थना की गई। बजरंगियों को संवोधित करते हुए विहिप दिल्ली के महा मंत्री श्री राम कृष्ण श्रीवास्तव ने कहा कि जो लोक कल्याण व आतंक वाद निरोध के काम त्रेता युग में बजरंग बली ने किए उन्ही कामों को इस कलयुग में बजरंग दल ने अपने हाथ में लिया है। उन्होंने कहा कि देश व धर्म की रक्षा करने के प्रभु श्री राम के काम में बजरंग दल अपनी अहम् भूमिका निभा रहा है।

विस्तृत जानकारी देते हुए विहिप व बजरंग दल के प्रवक्ता श्री विनोद बंसल ने बताया कि पूर्वी दिल्ली के रोहतास नगर, पश्चिमी दिल्ली के रोहिणी व शास्त्री नगर, उत्तरी दिल्ली के रविदास नगर, सेन्ट्रल दिल्ली के नवी करीम, करोल बाग़ तथा दक्षिणी दिल्ली के संत नगर, बदर पुर व कोटला में हुए सुन्दर काण्ड, हनुमान चालीसा, हवन तथा सत्संग के कार्यक्रमों में दिल्ली के लाखों युवाओं तथा बजरंगियों ने भाग लिया।

इस अवसर पर बजरंग दल के अखिल भारतीय प्रशिक्षण प्रमुख श्री मनोज वर्मा, प्रांत सुरक्षा प्रमुख श्री श्याम कुमार, श्री दीपक सिंह तथा श्री शिव कुमार सहित अनेक वक्ताओं ने दिल्ली के विभिन्न स्थानों पर सम्बोधित किया। उन्होंने यह भी बताया कि चन्द्र ग्रहण होने के कारण आज सायं के अनेक कार्यक्रमों को कल रविवार के लिए स्थगित कर दिया गया हैं।

श्री हनुमान जयंती उत्सव – वनवासी विकास प्रकल्प तळासरी

Hanuman Jayanti celebrationतळासरी । अप्रेल 4 2015। येथील विश्र्व हिन्दु परिषदेच्या वनवासी विकास प्रकल्पात श्री हनुमान जयंती उत्सव मोठ्या उत्साहात साजरा.

दरवर्षी प्रमाणे प्रकल्पातील श्री हनुमान मंदीराच्या प्रांगणात उत्सवाचे आयोजन करण्यात आले होते. या प्रकल्पातील निवासी विद्यार्थ्यानी मंदिर व परीसर सुशोभित केला, पारंपारिक प्रथेनुसार सूर्योदयापूर्वी कार्यक्रमाची सुरवात झाली. किर्तनकार श्री माधवराव बर्वेंनी श्री हनुमंताच्या जीवनातील बोधक कथांवर आधारीत नवविधा भक्तीचे दर्शन घडवणारे रसाळ किर्तन सादर केले आणि सूर्योदयसमयी श्री हनुमान जन्मेत्सव झाला.

या उत्सवात प्रकल्पातील सुमारे 250 विद्यार्थ्यी, प्रकल्पाचे कार्यवाह श्री सुरेश फाटक,श्री किशोर वझे, श्री योगेश रूपारेल उपस्थित होते.

You May Also Like