वॉल स्ट्रीट जर्नल तथा राहुल गांधी माफी मांगें: विहिप

 प्रेस वक्तव्य:

वॉल स्ट्रीट जर्नल तथा राहुल गांधी माफी मांगें: विहिप

 

नई दिल्ली। दिसम्बर 18, 2020। विश्व हिंदू परिषद ने आज कहा है कि बजरंग दल के विषय में वॉल स्ट्रीट जर्नल की मिथ्या रिपोर्ट के आधार पर राहुल गांधी ने जिस प्रकार फेसबुक की आड़ में बजरंग दल को बदनाम करने का षड्यंत्र रचा उससे उनकी मानसिकता की कलई खुल गई है। विहिप महामंत्री श्री मिलिंद परांडे ने आज कहा कि टुकड़े टुकड़े गैंग, सीएए विरोधियों तथा दिल्ली के दंगाइयों सहित अनेक राष्ट्र विरोधियों के साथ खड़े होकर उनकी पैरवी करने वाले राहुल गांधी को बजरंग दल जैसा राष्ट्रवादी संगठन आंखों में खटक रहा है। चीन के साथ उनके रिश्ते जगजाहिर हैं। उन्हें अमेरिकी जर्नल पर तो विश्वास है किंतु एक राष्ट्रव्यापी राष्ट्रवादी युवा संगठन पर नहीं!

विहिप महामंत्री ने वॉल स्ट्रीट जनरल से भी उसके इस अक्षम्य अपराध के लिए माफी मांगने को कहा है। उन्होंने कहा कि उसने बजरंग दल की आड़ में भारत को बदनाम करने का जो दुस्साहस किया है, उसे हम कदापि स्वीकार नहीं करेंगे।

उन्होंने कहा कि इससे पहले विक्की लीक के माध्यम से मीडिया में आई खबरों से स्पष्ट होता है कि श्रीमती सोनिया गांधी भी बजरंग दल पर प्रतिबंध लगाने के अनेक षड्यंत्र रच चुकी हैं जिनमें, वे सफल नहीं हो पाईं। अब फेसबुक ने वॉल स्ट्रीट जनरल की रिपोर्ट को सिरे से खारिज करते हुए जो सच्चाई बताई है, वह इन्हें पच नहीं पा रही। इससे इनकी विद्वेष पूर्ण हिन्दू विरोधी मानसिकता स्पष्ट परिलक्षित होती है।

श्री परांडे ने कहा कि राहुल गांधी तथा वाल स्ट्रीट जर्नल को बजरंग दल सहित देश के हिंदू समाज से माफी मांगनी चाहिए।

जारीकर्ता:

विनोद बंसल

राष्ट्रीय प्रवक्ता,

विश्व हिंदू परिषद

 

 

Press Statement:

The Wall Street Journal and Rahul Gandhi should apologize: VHP

            New Delhi, December 18, 2020 – The Vishva Hindu Parishad today said that Rahul Gandhi’s conspiracy to defame Bajrang Dal, under cover of false accusations published in the Wall Street Journal, has exposed his mind set. VHP Secretary General Shri Milind Parande today said that a nationalist organization like the Bajrang Dal is evidently poking in the eyes of Rahul Gandhi, who has proactively been standing by and standing up with lots of anti-national elements, including the pro-China and pro-Pakistan Tukde-Tukde gang, the anti-CAA hordes and hooligans and the Delhi rioters advocating their unconstitutional and anti-national stances. His affiliation and rapport with China is well known. He would believe in an American newspaper but, not in a Pan-Bharat nationalist youth organization!

            The VHP Secretary General also asked the Wall Street Journal to apologize for its false reporting. He said that the WSJ tried to target and discredit Bharat under the pretext of maligning Barang Dal, is totally unacceptable.

            He said that the earlier media reports, quoted from the Wiki-Leaks, make it clear that Mrs Sonia Gandhi had also been hatching quite a lot of conspiracies to ban the Bajrang Dal, but she could not succeed. Incidentally, the Face-book has clarified that there is no reason to block Bajrang Dal on Facebook. This reflects their hostile anti-Hindu mindset. Sri Parande said that now Rahul Gandhi and the Wall Street Journal should apologize to the Bajrang Dal and the Hindu society that forms 1/6th of the global population. Incidentally,

Regards

Vinod Bansal

National Spokesperson

Vishva Hindu Parishad