स्वधर्म में लौटे जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी का विहिप महा-मंत्री ने किया स्वागत जब वसीम रिजवी अपने पूर्वजों की ओर कदम रख सकते हैं तो शेष क्यों नहीं, हम स्वागत करेंगे



लखनऊ। दिसंबर 10, 2021. हाल ही में अपने पूर्वजों के धर्म में घर वापसी कर लौटे श्री जितेन्द्र नारायण सिंह त्यागी का आज विश्व हिन्दू परिषद के केन्द्रीय महामंत्री श्री मिलिंद परांडे ने आज विहिप कार्यालय में अभिनंदन व स्वागत किया है। श्री परांडे ने इस अवसर पर कहा कि श्री जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी का यह कदम अभिनंदनीय है। इससे उन सभी लोगों को प्रेरणा मिलेगी जो अपने मूल की ओर लौटना चाह रहे हैं। भूलों को सुधार, अपने मूल की ओर लौटना मानव धर्म है। जो भी हिन्दू धर्म में लौटना चाहे हम हृदय से उन सभी का स्वागत करेंगे। विहिप महामंत्री ने यह भी कहा कि शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमेन श्री वसीम रिजवी ने गत अनेक वर्षों से मुस्लिम समाज की कुरीतियों व कट्टरता के निदान के लिए अनेक अभूतपूर्व प्रयास किए किन्तु इस्लामिक जिहादियों व कट्टरपंथियों ने अपने पैरों पर हथौड़ा मारना ही उचित समझा। उन्होंने विश्वभर में आतंक, हिंसा व खून खरावे की पोषक कुरान की 26 आयतों के संदर्भ में भी जो साहसिक प्रयास किए उनको भी उन्होंने नकार दिया। इस संदर्भ में मुस्लिम समाज के प्रबुद्ध वर्ग को गंभीरता से विचार कर इस्लामिक कट्टरवाद को जड़ से मिटाने हेतु पहल करनी चाहिए। अन्यथा जिहादी मानसिकता व कट्टरता से शेष लोग तो पीड़ित हैं हीं, ये इस्लाम को भी निगल जाएगी। विहिप के श्री राम भवन लखनऊ स्थित प्रांत कार्यालय में उनका अभिनंदन करते हुए उन्होंने यह भी कहा कि श्री राम जन्मभूमि की मुक्ति के संदर्भ में श्री जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी ने जो कार्य किए उनके लिए भी वे साधुवाद के पात्र हैं। हम सभी से आह्वान करते हैं कि भूलों को सुधार अपने पूर्वजों के मूल की ओर लौट घरवापसी करें। हिन्दू समाज उन सभी का ह्रदय से स्वागत करेगा।
Issued By