Under the guise of hijab, anarchy by Jihadis and their backers unacceptable: Dr Surendra Jain



Press Statement : 
 
Under the guise of hijab, anarchy by Jihadis and their backers unacceptable: Dr Surendra Jain
 
New Delhi, Feb. 09, 2022 - The Vishva Hindu Parishad has said that the hijab controversy that started in Udupi, Karnataka is actually a ploy and agenda to spread Jihadi anarchy under the pretext and guise of hijab. VHP's Central Joint General Secretary Dr Surendra Jain said today that it can only be called 'Hijab Jihad'. In a school in Udupi, the unruly and disruptive insistence of 6 girl students to not sport the school uniform became a flash point. Jihadist organizations like PFI are planning a big conspiracy to create chaos and turmoil in entire Karnataka. The stone pelting done by Jihadis at many places like Bagalkot is a direct proof of this. The alert and vigilant citizens of Hindu society and the country will not allow this agenda to succeed.
  He said that the speed with which the Islamic world and the toolkit gangs of the entire world have reacted to this clearly shows that they want to make use of any and every opportunity to create lawlessness and chaos in Bharat. Probably they want to replicate Shaheen Bagh in Karnataka. VHP wants to make it clear to all these perverse and chaotic elements that they will not be able to succeed in their Jihadi designs and agenda due to the watchfulness of the Karnataka government and the eternal vigilance of the nationalist society of Bharat. It was only because of the indirect support of the Aam Aadmi Party government in Delhi that they were able to harass the citizens of Delhi.
  Dr Jain told that the girls of Udupi, who allowed themselves to act pawns for this plot, had, with conviction, put their signatures on the prescribed form at the time of getting admitted to the school, in which it was clearly written that they would come to the class wearing the school uniform. An amiable atmosphere is created in a school for imparting, inculcating and internalizing education, only if the pupils follow the rules and guidelines. Initially, these girl students were coming to school wearing uniforms. The way this doggedness on wearing the hijab suddenly took an aggressive posture, it is clear that this is a part of the Ghazwa-e-Hind Jihadi scheme and agenda itself. Besides supporting this, the way the Toolkit Gang, masterminded by the Congress Party, has humiliated the Hindu society is unacceptable and highly condemnable.
  The Joint General Secretary of the VHP also said that the way the Karnataka Congress President DK Shiva Kumar has misrepresented the saffron hoisting on a vacant pillar as an insult to the national flag is an attempt in desperation to get power even if he has to bump off the nation. Congress acting President Sonia Gandhi should clarify whether this crime of inciting Jihadi conflagration to insult Hindus was done on her instructions! If not, then by taking strict action against the culprit, an effort should be made to clean the Congress of such blots.
  He alleged that these developments across the country make it clear that Jihadi elements and the entire toolkit gangs led by the Congress are trying to create lawlessness in the country. VHP wants to make it clear to them that the vigilant Hindu society will surely thwart these unholy conspiracies of theirs. VHP appeals to the Karnataka government to expose all these conspiracies and deal with them strongly as per the law of the land, so that they do not have the cheeks and audacity to spread this Jihadi fire across the country.
 
 
प्रेस वक्तव्य :
 
हिजाब की आड़ में अराजकता से बाज आएं जिहादी व उनके पैरोकार: डॉ सुरेन्द्र जैन
 
नई दिल्ली। फरवरी 9, 2022। विश्व हिन्दू परिषद ने कहा है कि कर्नाटक के उडुपी से प्रारंभ हुआ हिजाब विवाद वास्तव में हिजाब की आड़ में जिहादी अराजकता फैलाने का एक षड्यंत्र है। विहिप के केन्द्रीय संयुक्त महामंत्री डॉ सुरेन्द्र जैन ने आज कहा है कि इसे हिजाब जेहाद ही कहा जा सकता है। उडुपी के एक विद्यालय में 6 लड़कियों के द्वारा विद्यालय का निर्धारित गणवेश ना पहनने की नाजायज जिद ने एक चिंगारी का रूप धारण कर लिया। पीएफआई जैसे कट्टर इस्लामिक संगठन संपूर्ण कर्नाटक में अराजकता निर्माण करने का एक बड़ा षड्यंत्र रच रहे हैं। बागलकोट जैसे कई स्थानों पर जिहादियों द्वारा की गई पत्थरबाजी इसका प्रत्यक्ष प्रमाण है। हिन्दू समाज व देश के जागरूक नागरिक उनके इन षडयंत्रों को सफल नहीं होने देंगे। 
उन्होंने कहा कि जितनी तेजी से संपूर्ण विश्व के इस्लामिक जगत व टूलकिट गैंग ने इस पर प्रतिक्रिया जताई है, उससे साफ प्रकट होता है कि ये भारत में अराजकता फैलाने का कोई भी अवसर नहीं चूकना चाहते। संभवतया ये कर्नाटक में शाहीन बाग दोहराना चाहते हैं। विहिप इन सभी अराजक तत्वों को स्पष्ट करना चाहती है कि कर्नाटक सरकार की सजगता और हिंदू समाज की सक्रियता के कारण वे सफल नहीं हो पाएंगे। दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार के  परोक्ष समर्थन के कारण ही वे दिल्ली के नागरिकों को त्रस्त कर पाए थे।
डॉ सुरेंद्र जैन ने बताया कि इस षड्यंत्र की कठपुतली बनी उडुपी की लड़कियों ने विद्यालय में प्रवेश के समय ही जिस फार्म पर हस्ताक्षर किए थे उसमें स्पष्ट लिखा था कि वह विद्यालय का गणवेश पहनकर ही कक्षा में आएंगी। विद्यालय के विद्यार्थी नियमों का पालन करेंगे तो ही वहां शिक्षा प्राप्त करने का वातावरण बनता है। ये लड़कियां गणवेष पहन कर आ भी रही थीं। हिजाब पहन कर ही आने की उनकी इस जिद ने जिस प्रकार अचानक ही आक्रामक रूप धारण कर लिया उससे स्पष्ट होता है कि यह जिहादी षड्यंत्र का ही एक भाग है। कांग्रेस के नेतृत्व में टूलकिट गैंग ने इस को समर्थन देने के साथ ही हिंदू समाज को जिस प्रकार अपमानित किया है वह घोर निंदनीय है। 
विहिप के संयुक्त महामंत्री ने यह भी कहा कि कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष डी के शिव कुमार ने एक खाली स्तंभ पर भगवा फहराने को जिस प्रकार राष्ट्रीय ध्वज के अपमान के रूप में प्रचारित किया है वह सत्ता प्राप्त करने की हताशा में एक राष्ट्रघाती प्रयास है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को यह स्पष्ट करना चाहिए कि क्या हिंदुओं को अपमानित कर जेहादी आग को भड़काने का यह अपराध उनके निर्देश पर हुआ है? यदि नहीं तो उन पर सख्त कार्यवाही करके कांग्रेस के दामन पर लगे दागों को साफ करने का प्रयास करना चाहिए।
उन्होंने आरोप लगाया कि संपूर्ण देश के इन घटनाक्रमों से यह स्पष्ट होता है कि जेहादी तत्व व कांग्रेस के नेतृत्व में संपूर्ण टूलकिट गैंग देश में अराजकता निर्माण करने का प्रयास कर रहे हैं। विहिप उनको स्पष्ट करना चाहती है कि जागरूक हिंदू समाज उनके इन अपवित्र षड्यंत्रों को अवश्य विफल करेगा। विहिप कर्नाटक सरकार से अपील करती है कि वह इन सभी षड्यंत्रों का पर्दाफाश करें और इनका मजबूती से दमन करें जिससे वे इस जिहादी आग को देशभर में ना फैला पाएं।
 
Issued By
Vinod Bansal National Spokesperson Vishva Hindu Parishad @VHPDigital