Youth

बजरंग दल

बजरंग दल की स्थापना 8 अक्टुबर 1984 को अयोध्या में हुई। ‘‘श्रीराम जानकी रथ यात्रा’’ अयोध्या से प्रस्थान के समय तत्कालीन सरकार ने सुरक्षा देने से मना कर दिया उस समय संतो के आवाहन पर विश्व हिन्दू परिषद द्वारा वहां उपस्थिति युवाओं को यात्रा की सुरक्षा का दायित्व दिया। श्रीराम के कार्य के लिए हनुमान सदा उपस्थित रहे है। उसी प्रकार आज के युग में श्रीराम के कार्य के लिए यह बजरंगियों की टोली ‘‘बजरंग दल’’ के रूप में कार्य करेगी।  बजरंगदल का संगठन किसी के विरोध में नही बल्कि हिन्दूओं को चुनोती देने वाले असमाजिक तत्वों से रक्षा के लिये हुआ।

–और पढ़ें–

Durga Vahini

Bajarang Dal had gained the approbation throughout the country on account of eligibility, sincerity and hard work, as regards various dimensions of Shriram Janmabhumi Mukti Andolan. As a result of its dynamic contribution, the neo-youths from all over the country got attracted towards the VHP. The youths in thousands have joined the Bajarang Dal in different parts of the country. Similarly, the girls also were attracted towards the VHP. With a view to kindling a sense of security….

–Read More–